दुकानों के लिए कौन-सा सोलर सिस्टम खरीदें?

Dukano-ke-liye-solor-system.jpg

वर्तमान समय में, दुनिया तेजी से सौर ऊर्जा को अपना रही है। भारत भी वैश्विक क्षेत्र में सौर ऊर्जा के अग्रणी उत्पादक के रूप में उभर रहा है। बिजली की निरंतर बढ़ती लागत और कीमतों के चलते लोग अपनी दुकानों के लिए सोलर सिस्टम की मांग कर रहे हैं। यदि आप भी अपनी दुकान के लिए बढ़िया सोलर सिस्टम लगवाने का सोच रहे हैं, तो आपके लिए यह जानना बेहद जरूरी है कि दुकानों के लिए कौन सा सोलर सिस्टम सबसे बेहतर रहेगा।

आमतौर पर दुकानों में बैक-अप पावर के लिए यूपीएस और छोटी क्षमता वाले जेनरेटर स्थापित किए जाते हैं, वे ज्यादातर सीमित उपकरणों को कम अवधि का बैक-अप प्रदान करते हैं। हालांकि इन यूपीएस पावर सिस्टम्स को इंस्टाल करवाने से आपके मासिक बिजली बिल में 5 – 8% तक की बढ़ोतरी हो जाती है, क्योंकि अनिर्धारित बिजली आउटेज के दौरान तत्काल बैक-अप प्रदान करने के लिए यूपीएस को 24/7 कार्यात्मक रखना पड़ता है, जिसे चार्ज करने के लिए भी बिजली की आवश्यकता होती है।

वहीं डीज़ल जेनरेटर भले ही छोटी व्यावसायिक दुकानों द्वारा बड़ी गिनती में उपयोग किया जाता है, लेकिन यह एक व्यावहारिक और भरोसेमंद विकल्प नहीं है, क्योंकि इससे काफी प्रदूषण होता है और इसके उपयोग से संबंधित मैनुअल स्विचिंग और रखरखाव में भी काफी परेशानी झेलनी पड़ती है। ऐसे में सोलर सिस्टम दुकान के लिए सबसे उत्तम विकल्प है, जो न केवल प्रदूषण रहित है बल्कि आपको बिजली कीमतों की बढ़ती मार से भी बचाता है।

Also Read: Generator v/s Inverter Back-up Pros and Cons

सोलर सिस्टम खरीदने से पहले ध्यान रखने योग्य बातें

मूल रूप से, लोग एक खास उद्देश्य के लिए सोलर सिस्टम खरीदते हैं। हमने जो दो विशेष कारण देखे वह निम्नलिखित हैः

1. बैटरी चार्जिंग के लिए

अक्सर लोग अपनी दुकानों में लगी बैटरी को चार्ज करने के लिए छोटे सोलर पैनल लगवाना पसंद करते हैं। इससे फायदा यह रहता है कि बैटरी को चार्ज करने के लिए उपयुक्त बिजली सोलर सिस्टम से मिल जाती है, जिससे आपके बिजली बिल पर बोझ नही पड़ता और आपकी बिजली भी गुल होने की समस्या हल हो जाती है।

2. बिजली बिलों में कटौती के लिए

दिन के समय आपके बिजली के उपकरण जैसे एसी, कूलर, फ्रीजर इत्यादि यदि सोलर ऊर्जा पर चलेंगे, तो आपके बिजली बिलों में काफी कटौती आ जाएगी। आमतौर पर यही उपकरण दिन भर निरंतर चलते हैं और भारी बिजली की खपत करते हैं, जिससे माह के अंत में आपके हाथ लंबा-चौड़ा बिजली का बिल होता हैं।

दुकान के लिए सबसे अच्छा सोलर सिस्टम

1. ऑन ग्रिड इंटर-टाईड सोलर सिस्टम

ऑन ग्रिड इंडर टाईड सोलर सिस्टम आमतौर पर ऐसे क्षेत्रों के लिए उत्तम विकल्प साबित होता है, जहां अमूमन पूरा दिन बिजली रहती है। यदि बिजली कट लगता भी है, तो केवल कुछ घंटो का। ऑन ग्रिड इंडर टाईड सोलर सिस्टम आपकी दुकान की मुख्य बिजली प्रणाली से जोड़ा जाता है। इसकी मदद से आप खुद बिजली बनाकर, उसे बिजली बोर्ड को वापस भेज सकते हैं। इसका मतलब इससे न सिर्फ आपकी बिजली खपत कम होगी, बल्कि माह अंत में आने वाला बिजली का बिल भी कम आएगा। अन्य सोलर सिस्टम की तुलना में इसे लगवाने में कम खर्च आता है।

Also Read: सोलर पैनल के लिए आसान ऋण सुविधा

2. ऑफ ग्रिड सोलर पावर सिस्टम

ऑफ ग्रिड सोलर पावर सिस्टम ऐसे क्षेत्रों के लिए सही रहता है, जहां आमतौर पर बिजली जाने की समस्या अधिक होती है। यदि इसकी कार्यप्रणाली के बारे में बताएं, तो ऑफ ग्रिड सिस्टम में सोलर पैनल के साथ सोलन इनवर्टर और बैटरियां लगाई जाती हैं। सोलर पैनल से बनने वाली बिजली से यह बैटरियां चार्ज हो जाती है। इससे बिजली न होने पर बैटरियों में स्टोर बिजली से आप छोटे उपकरण चला सकते हैं। यदि आप दुकान के पंखे और लाइट इत्यादि चलाना चाहते हैं तो आपको 1100VA के इनवर्टर और एक बैटरी की आवश्यकता होगी। यही आप अगर ए.सी, फ्रिज इत्यादि उपकरण इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको 5000VA के इनवर्टर और 4 बैटरियों की जरूरत पड़ेगी। इनवर्टर और बैटरियों के चलते इसकी कीमत ऑन ग्रिड से अधिक रहती है।

Also Read: All You Need to Know About Running a Freezer on Solar Power

यदि आप भी दुकान के लिए सस्ता सोलर सिस्टम लगवाने का सोच रहे हैं तो आपको इस बात का ज्ञान होना बेहद जरूरी है। मार्केट में हर जरूरत के अनुसार अलग-अलग किलोवॉट के सोलर सिस्टम उपलब्ध हैं। आप अपने उपकरणों के अनुसार अपने लिए उचित सोलर पैनल का चयन कर सकते हैं। हालांकि मार्केट में आपको सोलर इनवर्टर भी आसानी से मिल जाते हैं, जिनकी कीमत सामान्य इन्वर्टर से थोड़ी ज्यादा रहती है। सोलर इनवर्टर की कीमत 5000  से शुरू हो जाती है